Jharkhand History

झारखंड में जनजातीय भूमि हस्तांतरण की समस्या | झारखंड भूमि हस्तांतरण की समस्या | problem of tribal land alienation in Jharkhand

झारखंड भूमि हस्तांतरण की समस्या क्यों हो रही थी? आज आप इस आर्टिकल में जानेंगे झारखंड में राजतन्त्र के दौरान अलग अलग जातियों के लोगों की भूमि /जमीन का अधिग्रहण के बारे में (झारखंड भूमि हस्तांतरण की समस्या) एक समय में झारखंड के जनजातीय लोगों की जमीनें जोर ज़बरदस्ती से छिनी जा रही थी। आज उसी के बारे …

Read More

झारखण्ड के प्रसिद्ध स्थान | famous place of Jharkhand

झारखण्ड के प्रसिद्ध स्थान : famous place of Jharkhand राँची : – हुंडरू का जल प्रपात, जोन्हा दसम, कांके डैम, हटिया डैम, जगन्नाथ मंदिर, खूँटी का आम्रेश्‍वर धाम, ओरमाझी का जैविक उद्यान, चुट्टपाली घाटी स्थित शहीद स्थल, पहाड़ी मंदिर इत्यादि। पारसनाथ : –  पारसनाथ धाम ( जो पर्वत पर स्थित…

Read More

बंगाल पर अधिकार स्थापित करने के बाद अंग्रेजों ने झारखंड में किस तरह अपना प्रभुत्व कायम किया? | Arts (I. com) Semester 3 झारखंड का इतिहास

बंगाल के रास्ते ब्रिटिश शक्तियां झारखण्ड में अपना प्रभुत्व स्थापित करने में कहाँ तक सफल रही आज इस ब्लॉग में जानेंगे की अंग्रेज किस तरह झारखंड में प्रवेश किया और आखिर अंग्रेज कौन सी नीति अपनाई थी झारखण्ड में घुसने के लिए। जानेंगे पुरे विस्तार से अंग्रेज आखिर झारखण्ड में क्यों घुसा? क्या कारण था अंग…

Read More

झारखंड के आर्थिक सामाजिक जीवन में वनों की क्या महत्वपूर्ण भूमिका थी? | What was the important role of forests in the economic and social life of Jharkhand? | Arts (I. com) Semester 3 झारखंड का इतिहास (history)

औपनिवेशिक राजनीति का झारखंड (Jharkhand) के वन संपदा पर किस तरह का प्रभाव पड़ा? वनों पर पूर्णरूपेणआश्रित आदिम जनजातियों को किन दुश्वारियों का सामना करना पड़ा? देखा जाए तो झारखंड (Jharkhand) पठारी क्षेत्र है, झारखंड में छोटे-मोटे और कुछ बड़े पहाड़ और घने जंगल हर जिले में मिल जाएंगे। झारखंड खनिज संपदा…

Read More

अंग्रेजों के साथ पलामू के राजाओ के साथ संबंध कैसा था? | How was the relation with the Rajas of Palamu with the British? | Arts (I. com) Semester 3 झारखंड का इतिहास (history)

How was the relation with the Rajas of Palamu with the British? सन् 1767 ईस्वी में सिंहभूम में अंग्रेजो को प्रारंभिक सफलता मिलने के बाद कंपनी कि नजर पलामू (Palamu) के क्षेत्रों पर पड़ा। इस क्षेत्र में व्याप्त राजनीतिक अव्यवस्था और गड़बड़ी से अंग्रजी कंपनी को अपने उद्देश्यों को पूरा करने के लिए ज्य…

Read More

झारखण्ड में रेलवे का इतिहास -फर्स्ट रेलवे लाइन इन झारखण्ड | Arts (I. com) Semester 3 झारखंड का इतिहास (history)

ब्रिटिश काल में झारखण्ड में रेलवे का विकास तथा अन्य परिवहन के कौन-कौन से साधन थे? झारखण्ड में रेलवे का इतिहास – एक समय ऐसा था कि झारखण्ड में कहीं भी आने जाने के लिए किसी भी तरह का साधन नहीं थी। हर तरफ सिर्फ कच्चे रास्ते थे, फिर फिर धीरे जैसे जैसे समय बदला वैसे वैसे यातायात के नए नए साधन विकस…

Read More

झारखंड में ईसाई मिशनरियों का आगमन से आदिवासियों पर क्या प्रभाव पड़ा | Arts (I. com) Semester 3 झारखंड का इतिहास (history)

झारखण्ड में ईसाई मिशनरियों क्या क्या योगदान है? ईसाई मिशनरियों का झारखण्ड में आदिवासियों और ग्रामीण इलाको के बच्चो को सबसे पहले शिक्षा देने काम ईसाई मिशनरियों ने ही शुरू किया। झारखण्ड में सबसे पहले विद्यालयों खोलने का श्रेय ईसाई मिशनरियों को ही जाता है, ईसाई मिशनरियों ने झारखण्ड में बहुत से स्कूलो…

Read More

Palamu district ka Itihas | पलामू का इतिहास | पलामू पर चेरोवंश का शासन काल दौर का इतिहास | Arts Semester 3 झारखण्ड का इतिहास

पलामू (Palamu) के चेरो राज परिवार की उत्पत्ति एवं इतिहास आज बात करेंगे पलामू (Palamu) के इतिहास के बारे में जब मुग़ल काल की शुरुआत हुई थी तब झारखण्ड में छोटे बड़े राज्यों की संख्या अनगिनत थी, ऐसी स्थिति लगभग सभी विभाजित और अविभाजित राज्यों की थी। तो झारखण्ड का जिला पलामू भी में से एक था, पलामू राज…

Read More

झारखण्ड की जनजातियाँ, आदिवासी | Jharkhand me kaun kaun si janjatiyan hai | झारखण्ड में मौजूद प्रमुख जनजातियाँ

झारखण्ड की जनजातियाँ : Jharkhand me aadivasi janjati खड़िया असुर संथाल उरांव मुंडा हो खरवार भूमिज खरिया गोंड कोरबा बिरहोर करमाली किसान खौंड बेगा बिझिया बेड़िया सावर लोहरा बिरजिया सौरिया पहाड़िया माल पहाड़िया हिल पहाड़ियां पहाड़िया झारखण्ड की जनजातियाँ संथाल – ये झारखंड की सबसे बड़ी जनजाति है…

Read More

झारखण्ड की जनसंख्या क्या है जिलानुसार | Population of Jharkhand by District

झारखण्ड की जनसँख्या 2011 जनगणना के अनुसार झारखंड की जनसंख्या – 3,29,66,238 (देश में 13 वां स्थान, (वृद्धि दर 22.34%)  0 से 6 आयुवर्ग की बाल जनसंख्या – 52,37,582 (15.89%) पुरुष – 1,69,31,388 महिला – 1,60,34,550 झारखंड का लिंगानुपात – 1000:947 (प्रति1000 पुरुषों पर…

Read More

Jharkhand ka itihas | झारखण्ड का इतिहास

Jharkhand की भौगौलिक स्थिति हमारा झारखण्ड (Jharkhand) बहुत ही हरा भरा है चारों तरफ़ हरियाली ही हरियाली आपको दिखेगी है। कुछ ही जगहे हैं जहाँ पर आपको खाई देखने को मिलेगी, कारण यह है कि वहां से कोयला खनन करनिकालने का काम जोरो से चल रहा है। और ऐसे बहुत से जगहे है जहाँ से हर दिन बहुतायत मात्रा में…

Read More

Jharkhand ke vanya jiv abhyaranya – झारखंड की वन्य जीव अभ्यारण्य और उद्यान

Animal forest of Jharkhand झारखंड की वन्य जीव और अभ्यारण्य झारखंड की वन्य जीव अभ्यारण्य और उद्यान  जो बहुत ही सुन्दर है झारखंड में देखा जाए तो यह एक पठारी क्षेत्र है और जंगलों हरा भरा राज्य है वन क्षेत्र देखा जाए तो करीब करीब 32 प्रतिशत वन क्षेत्र है। और इसको लेकर वन क्षेत्र को बढ़ा…

Read More